Khilaune banane ka business kaise start kare

Please Share It
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Khilaune banane ka business kaise start kare

khilaune-banane-ka-business-kaise-start-kare_optimized

स्वयं बिज़नेस मास्टर बनें:-

मित्रों अगर आप अपने लिए कोई भी बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं तो उसके बारे में खुद मास्टर बनें तभी सफलता हासिल होगी। आपको उस बिज़नेस की पूरी नॉलेज होनी चाहिए। अगर नहीं है तो आप उस बिज़नेस से सम्बंधित किसी कंपनी में जॉब पकड़ लें और वहाँ जा कर बिज़नेस आईडिया लें की कैसे काम होता है और क्या क्या जरूरते होती हैं। कैसे बिज़नेस को आगे लोग बढ़ाते हैं। व्यवहार कुशल कैसे बना जाता है। सैलरी की चिंता किये बिना काम सीखें, अनुभव लें तब जा कर आप परफेक्ट हो पाएंगे। 

इससे आप अपने बिज़नेस को आगे बढ़ा पाएंगे और कारीगर आपको मुर्ख भी नहीं बना पाएंगे।आप बिज़नेस के बारीकियों को अच्छे से सीखें और समझें। विश्वास मानिये मित्रों ये कला आपको जरूर आगे ले कर जाएगी। कोई भी काम करें उसके प्लस और माइनस को अच्छे से समझकर ही बेडा उठायें। बिज़नेस में सिर्फ पैसा ही नहीं हिम्मत और विश्वाश सबसे बड़ी ताकत होती है।  

खिलौने के बिज़नेस का मारकेट पैटर्न:-

अगर आप खिलौने का बिज़नेस खोलना चाहते हैं तो आपने अपने लिए एक उज्जवल भविष्य चुना है। बस आप बाजार के जरूरतों के हिसाब से अपने को तैयार रखिये। दिन पर दिन जैसे-जैसे इसकी डिमांड बढ़ रहा है वैसे-वैसे खिलौनों का पैटर्न भी चेंज हो रहा है। अगर आपको मार्किट में बने रहना है तो आपको मार्किट के हिसाब से चलना पड़ेगा। रोज नयी खोज हो रहा है। नई डिज़ाइन नया तरीका और नया पैटर्न ये सब मार्किट के बेसिक जरूरतें  हो गयी हैं और रोज नए चैलेंज। अतः आपको जागरूक हो कर इस बिज़नेस को शुरू करना है। लकीर कर फ़क़ीर एकदम मत बनें। Khilaune banane ka business kaise start kare in Hindi

भारत में पुराने ज़माने में लकड़ी के खिलौने चलते थे हालाँकि इन खिलौनों में किसी प्रकार की हानि नहीं थी बस बच्चों को चोट लगने का डर बना रहता था।और ये खिलौने थोड़े भारी भरकम भी होते थे। आजकल तो कई तरह के खिलौने बन रहे हैं जैसे-प्लास्टिक के खिलौने, सॉफ्ट खिलौने,इलेक्ट्रॉनिक और बैटरी से चलने वाले खिलौने, कागज से निर्मित और कपडे से निर्मित खिलौने।

अब आप देखिये समय के खिलौने के पैटर्न में कितना बदलाव आ रहा है अब ज्यादातर एडुकेशनल और एक्टिविटी वाले खिलौनों का बोल बाला बढ़ रहा है। इन खिलौनों से बच्चों के बौद्धिक स्तर में बड़े पैमाने पर बृद्धि हो रही है और एक्टिविटी में भी काफी बदलाव आ रहा है इसलिए ये बिज़नेस फायदेमंद के साथ साथ थोड़ा सा चैलेंज वाला है। इसके अलावा अब तो ज्यादातर खिलौने रिमोट कण्ट्रोल से सेट, वाकी टाकी सेट वाले,म्यूजिकल खिलौने,विडिओ गेम,एयरोप्लेन के तरह उड़ने वाले बहुत ही लोक प्रिय होते जा रहे हैं।

मार्केट में खिलौने की विक्री की सम्भावना:-

साथियों, जहाँ यह एक सदाबाहर बिज़नेस है वहीं इस बिज़नेस से अच्छी कमाई भी होती है। बच्चों के अंदर जो खिलौनों के प्रति जो आकर्षण हमेशा बना रहता है उससे देख कर यही लगता है की इसका व्यापार कभी ख़त्म नहीं होने वाला। खिलौनों का मार्किट भी बहुत गरम रहता है। Toy manufacturing business ज्यादातर भारत में कुटीर उद्योग के माध्यम से बड़े पैमाने पर चलाया जाता है।अतः आपके लिए यह बिज़नेस काफी फायदेमंद हो सकता है।Khilaune banane ka business kaise start kare in Hindi

खिलौने बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें?

 जैसा की मैंने शुरू में जिक्र कर दिया है की इस व्यापार को चलाने के लिए पूंजी,धैर्य,बदलते हुए पैटर्न की पहचान, बच्चों की चॉइस और बहुत से क्रिएटिव आईडिया की जरूरत होती है अतः आप जब खुद जागरूक रहें तभी यह बिज़नेस चालू करें। क्योंकि इसमें मनोरंजन के साथ साथ बच्चों को इससे शिक्षा भी मिले और साथ ही साथ  उन्हें किसी प्रकार का नुकसान भी ना हो इस बात को ध्यान में रख कर ही इस बिज़नेस को शुरू करें तो सफलता मिलने के ज्यादा सम्भावना बना रहता है। इस बिज़नेस को शुरू करने के लिए कुछ विशेष बातों का ध्यान रखें। Khilaune banane ka business kaise start kare in Hindi

A)स्थानीय स्तर पर सर्वे करें:- 

मित्रों! इस व्यापार को शुरू करने के लिए सबसे पहले जरुरी है की जिस स्थान पर आप इस व्यवसाय को शुरू करना चाहते हैं वहाँ पर इस व्यवसाय का क्या भविष्य है? किस तरह के खिलौनों का पैटर्न चल रहा है? कैसे खिलौने बन रहे हैं और बिक रहे हैं? या कोई उद्यमी इस कारोबार में सलंग्न है या नहीं। अगर है तो किस तरह का लाभ वो कमा पा रहा है।इस विशेष एरिया में कच्चे माल से लेकर कारीगर और कुशल श्रमिक किस मात्रा में और किस रेट  पर उपलब्ध हैं? Khilaune banane ka business kaise start kare in Hindi

आपके जितने प्रश्न हैं इस व्यापार को खोलने के लिए सबका एक सर्वे करके एक मैप बना लें। इस बिज़नेस के लिए एक डिज़ाइन करें तभी आगे बढ़ें। जितना अच्छा सर्वे करेंगे उतनी जल्दी कम लागत पर आप सफल हो पाएंगे। 

B)खिलौनों की एक केटेगरी लिस्ट बनायें:- 

जब आप सर्वे अच्छी तरह से कर लें तो इस की एक केटेगरी लिस्ट बनायें की इस स्थान पर किस किस तरह के खिलौने ज्यादा से ज्यादा बिक रहें हैं। उसकी एक केटेगरी और सब केटेगरी बनायें। हालाँकि इसकी लोकल विक्री ज्यादा तो होती ही है साथ ही साथ इस बात पर भी ध्यान दें की आपके खिलौने बाहर भी सप्लाई हो सकें। अतः उसी को ध्यान में रख कर इस बिज़नेस से सम्बंधित अपने बिज़नेस का खाका बनायें। तब इसमें सफलता मिलने के अवसर आपको दिखेगा।बस आपको मार्किट की थीम और चॉइस पकड़ना है। जितनी जागरूकता आप रखेंगे सफलता और पैसा आपको उतनी ही जल्दी मिलेगी। Khilaune banane ka business kaise start kare in Hindi

C)स्थान और कुशल कारीगर का प्रबंधन:- 

खिलौनों के मैन्युफैक्चरिंग के लिए स्थान और खुशल कारीगर बहुत मायने रखता है। यहाँ मैं आप लोगों को व्यक्तिगत अनुभव बताऊंगा की अगर आप अपना ये व्यापार चलाना चाहते हैं तो अच्छे से इसके बारे में खुद जानकारी बढ़ाएं। अगर एक हलुआइ खुद मिठाई नहीं बनाना जानता है तो वो कैसे कारीगरों से काम करवा सकता है? इस लिए जरुरी है की खिलौना बनाने की कला आपके पास जरूर हो। इससे कारीगर आपको कभी मुर्ख नहीं बना सकते हैं। कारीगर भी कार्य के प्रति ईमानदार रहने वाले होने चाहिए। इसके लिए आप डिज़ाइन इंजिनियर,प्रोडक्शन मैनेजर,एक्सपर्ट श्रमिक,चपरासी और माल बिक्री करने के लिए सेल्स एग्जीक्यूटिव को चयनित कर सकते हैं। Khilaune banane ka business kaise start kare in Hindi

कोई भी बिज़नेस छोटे स्तर पर ही शुरू करें और कम लागत का बिज़नेस हो। और फिर धीरे धीरे उसको आगे बढ़ाते चलें तो ज्यादा फायदा होगा। एकदम से बड़ा बिज़नेस नहीं शुरू कर देना चाहिए। जैसे जैसे काम बढ़ता चला जाय आप अपने बिज़नेस को बढ़ाते चले जाएँ। रही बात जमीन के लिए तो ये बिज़नेस के ऊपर निर्भर करता है की आप कितना बड़ा बिज़नेस शुरू करना चाहता है। साधारण तौर पर देखा जाय तो ४०० से ५०० स्क्वायर मीटर तक जमीन में अपना ये बिज़नेस शुरू कर सकते हैं। 

फैक्ट्री के लिए लाइसेंस और पंजीकरण:- 

वैसे खिलौने के व्यापार को आप असंगठित क्षेत्र में भी कर सकते हैं लेकिन अगर आप अपने बिज़नेस को एक नयी ऊंचाई और नया ब्रांड देना चाहते हैं तो आप इसका रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस जरूर करा लें। ये कार्य आप रजिस्ट्रार ऑफ़ कम्पनीज से करा सकते हैं। स्थानीय स्तर पर आपको नगर निगम,नगर पालिका आदि से भी ट्रेड लाइसेंस की जरुरत पड़ेगी। इसके अलावा जीएसटी  का रजिस्ट्रशन भी करा लें। कहने का मतलब यह है की दुकान के लिए जो जरुरी कागजात होता है उसको एकदम चुस्त दुरुस्त रखें। विजली पानी आदि का कामर्शियल कनेक्शन भी सही तरीके से होना चाहिए। Khilaune banane ka business kaise start kare in Hindi

सॉफ्ट खिलौने के लिए आवश्यक उपकरण

साथियों हम आपको यहाँ कुछ और भी खिलौने  जैसे सॉफ्ट खिलौने बनाने के लिए कुछ आवश्यक मशीनरी और कच्चा मॉल के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी जानकारी बहुत ही जरुरी है।

  1.  कुछ सिलाई मशीन(लगभग आवश्यकता अनुसार ४ या ५)
  2. रैक 
  3. काटने और सिलने के लिए जैसे -कैंची, टेप और सुई धागा आदि 
  4. पैकिंग मशीन 
  5. कपड़ा(फ़र)
  6. पैकिंग सामग्री 
  7. खिलौने को एक अलग रूप देने के लिए आँखे,धागा, रिबन आदि की आवश्यकता होती है।

सॉफ्ट खिलौने कैसे बनाते हैं?

साथियों! सॉफ्ट खिलौने आप बहुत ही आसानी से बना सकते हैं। हालाँकि सॉफ्ट खिलौने बनाने में महिलाएं सिद्ध हस्त होती हैं। खासकर वो महिलाएं जो सिलाई, कढ़ाई और बुनाई का काम अच्छे से जानती हैं। यह बिज़नेस बहुत ही कम पैसे में एक छोटी सी जगह पर कॉटेज इंडस्ट्रीज यानि की कुटीर उद्योग के  में मात्र ४०  से ६० हजार में चालू कर सकती हैं। अगर आप कटाई और सिलाई का काम जानते हैं तो सबसे पहले आप खिलौने का डिज़ाइन बना लें। किसी भी काम को करने से पहले उसकी मैपिंग बहुत ही जरुरी होता है। Khilaune banane ka business kaise start kare in Hindi

जब आप डिज़ाइन बना लेते हो तो उसकी सिलना करके उसमें स्पंज वगैरह भर के उसको अच्छे से सील दें।फिर उसमें अच्छे से हाथ, पैर , आंख ,नाक, मुँह आदि को सेट करके सील दें और उसमें कुछ फुलेना लगा दें। इसमें अच्छे कपडे का इस्तेमाल करें जिसे देखने में सूंदर लगे। मित्रों यहाँ एक बात जरूर ध्यान दें जब भी कोई खिलौना बनायें तो इतना आकर्षक और सुन्दर बनायें की बच्चों को एक ही नजर में पसंद आजाये और वे एक ही नजर में खरीद लें। Khilaune banane ka business kaise start kare in Hindi

यहाँ हमने आपके सामने कुछ खिलौनों की श्रेणियाँ और कुछ मशीनरी उपकरण और कच्चा मॉल। इन सबके बारे में आप अच्छी जानकारी ले कर अपने आवश्यकता अनुसार बिज़नेस शुरु कर सकते हैं। और उस बिज़नेस से तैयार माल को आप लोकल स्तर पर,राज्य और देश लेवल पर अपना मार्किट बना सकते हैं और चाहें तो ऑनलाइन कुछ ब्रांडेड कंपनियों से जुड़ कर भी आप अपने व्यवसाय को शुरू कर सकते हैं और खुद का वेबसाइट बना कर भी अपने बिज़नेस को बढ़ा सकते हैं। 

इलेक्ट्रॉनिक खिलौना

अगर आप इलेक्ट्रॉनिक खिलौने बनाने के व्यापार को भी आगे बढ़ाना चाहते हैं तो आप को इससे सम्बंधित कुछ कच्चा माल और मशीनरी भी खरीदनी पड़ेगी। इससे इलेक्ट्रॉनिक टॉय मैन्युफैक्चरिंग करने में आपको काफी सहायता मिलेगी। इसके लिए कुछ जरुरी उपकरण और मशीनरी की जरुरत पड़ेगी-

  1. एलसीआर मीटर
  2. टेम्प कण्ट्रोल सोल्डरिंग यूनिट 
  3. एनालॉग मीटर 
  4. डिजिटल मल्टीमीटर 
  5. टूल किट 
  6. ड्रिलिंग मशीन 
  7. इलेक्ट्रिक स्क्रू ड्राइवर,स्क्रू फीडर 
  8. कंबाइंड सोडेरिंग डी  सोल्डरिंग 
  9. हाई-स्पीड मिनी ड्रिल सेट 
  10. इसके साथ कंप्यूटर सेट और यूपीएस 

 इसके लिए कच्चा माल लिथियम बैटरी, लिथिम पॉलिमर बैटरी चार्जर,टॉय कार मोटर कण्ट्रोल, प्लास्टिक या फाइबर की बॉडी चेसिस, धातु से बने माइक्रो गियर,फ़्रंट और बैक ब्रशलेष मोटर,रिमोट कण्ट्रोल यूनिट, इलेक्ट्रॉनिक पार्ट्स, कनेक्टर, तार, केबल आदि।

बनाने की विधि जानें:-

जब सब मटेरियल आपने तैयार कर लिए है तो इसके बाद आपको हम इसके निर्माण विधि के बारे में बताएँगे की एक इलेक्ट्रॉनिक बिज़नेस को आप कैसे बना सकते हैं। हालाकिं की हर प्रकार के खिलौने बनाने की विधि अलग अलग है लेकिन हम यहाँ जिक्र करेंगे इलेक्ट्रॉनिक खिलौना बनाने की विधि के बारे में जिसको आप स्टेप बॉय स्टेप फॉलो करते जायँ। 

Transmitter:-ये रेडियो के तरंगो को रिसीवर तक सफलता पूर्वक पहुँचाने का काम करता है। 

Receiver:-रिसीवर का यह भाग खिलौने के अंदर लगा रहता है। यह एंटीना या सर्किट बोर्ड के रूप में लगा होता है। जब ट्रांसमीटर कोई संकेत भेजता है तो उसको यह रिसीव करता है और खिलौने के अंदर लगे मोटर को एक्टिव करने में सहायता करता है।  

Moter:-मोटर रिसीवर द्वारा प्राप्त संकेतों को रिसीव करके खिलौने में लगे मोटर पहियों को चलाने में मदद करता है। इसके माध्यम से पहिया, प्रोपेलर आसानी से एक्टिव होकर चलते हैं। 

Power Resourceमोटर को चलाने के लिए पावर सोर्स की जरूरत पड़ती है। इसलिए इसका सीधा मतलब रिचार्जेबल बैटरी से होता है। इससे मोटर को पावर मिलता है।

इसे भी पढ़ें

साथियों इस लेख में मैंने आप लोगों को खिलौने बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें इसके बारे में पूरी जानकारी दिया है। अब मैं अपनी लेखनी को यहीं विराम देता हूँ। अगर आप लोगों को कुछ बातें समझ में नहीं आयी होंगी तो आप जरूर कमेंट के माध्यम से पूछें।

FAQ 

प्रश्न:-खिलौने बनाने का बिज़नेस छोटे स्तर पर शुरू कर सकते हैं क्या?  

उत्तर:-जरूर कर सकते हैं। वैसे कोई भी बिज़नेस छोटे स्तर पर ही शुरू करना चाहिए। एक कुटीर या लघु उद्योग के रूप में। इससे अगर सफलता नहीं भी मिली तो ज्यादा नुकसान नहीं होगा। 

प्रश्न:-खिलौना बनाने का बिज़नेस के लिए कम से कम कितनी जगह में किया जा सकता है?

उत्तर:-खिलौने बनाने का बिज़नेस के लिए अगर आपके पास ४०० से ५०० स्क्वायर मिटर जमीन है तो आप इस बिज़नेस को आप आसानी से कर सकते हैं। 

प्रश्न:-खिलौना बनाने का बिज़नेस के लिए कम से कम कितनी लागत की जरुरत पड़ती है?

उत्तर:-खिलौने बनाने का बिज़नेस के लिए लागत की कोई लिमिट नहीं होती है। ये आपके बिज़नेस आइडिया पर निर्भर करता है की आप कितना बड़ा व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं।  अगर आपके पास ४०००० हजार से ५०००० हजार रुपया है तो आप इस बिज़नेस को आसानी से कर सकते हैं।लेकिन इतने पैसे से आप काफी छोटे स्तर का ही बिज़नेस कर सकते हैं। अगर बड़े पैमाने पर आप शुरू करना चाहते हैं तो इसके लिए आप ४ से ५ लाख तो इन्वेस्ट कर सकते हैं। 

प्रश्न:-खिलौना बनाने का बिज़नेस के लिए कैसे तैयारी करें?

उत्तर:-सबसे पहले तो आपके पास एक क्रिएटिव माइंड होना चाहिए क्योंकि रोज नया पैटर्न चेंज हो रहा है और मार्किट में कम्पटीशन भी बहुत तेजी से बढ़ रहा है। बच्चों का मूड हमेशा नयी चीजों पर होता है अतः ये सब देख कर ही आप ये बिज़नेस शुरू करें। इसके अलावा मार्किट रिसर्च भी करें और लोकल लेवल पर भी रिसर्च करें की आखिर इसकी तैयारी कैसे करें? खिलौनों की केटेगरी भी बनायें। इसकी मार्केटिंग कैसे करना है ये भी जानकारी रखें। अगर आपको कोई दिक्कत हो रही है तो खिलौनों के किसी फैक्ट्री में जॉब भी करें। इससे आपको बिज़नेस का अच्छा आईडिया आ जायेगा। 

प्रश्न:-खिलौना बनाने का बिज़नेस से क्या ज्यादा पैसा कमाया जा सकता है?

उत्तर:-जरूर कमाया जा सकता है। लेकिन आप सिर्फ पैसे पर अपना दिमाग न लगाएं। ये बात सही है की जो भी बिज़नेस शुरू करता है तो पैसा कमाना है इस बात पर जोर देता है। लेकिन जीवन में आगे बढ़ना है तो आप क्वालिटी पर जोर दें। जितना अच्छा और सस्ता आपका खिलौना होगा आप उतना ही आगे बढ़ेंगे। कम लागत में बिज़नेस शुरू करें और इस बिज़नेस को बढ़ाते हुए आगे तक लें जाएं लेकिन प्रोडक्ट के क्वालिटी पर जोर दें। 

प्रश्न:-खिलौने बनाने के बिज़नेस के लिए क्या फ्रेंचाइजी ले सकते हैं?

उत्तर:-आप चाहें तो इसका बिज़नेस भी शुरू करें अन्यथा आप इसकी फ्रेंचाइजी लेकर भी इस बिज़नेस को शुरू कर सकते हैं। 

प्रश्न:-लोकल खिलौनों को वोकल बनाने के लिए किसने इसका आह्वान किया है?

उत्तर:-लोकल खिलौनों को वोकल बनाने के लिए मोदी जी ने आह्वान किया है। 


Please Share It
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Hi! I am Ajitabh Rai and Founder of www.importantgyan.com My main aim is Explore & Provide best,vailubale and accurate knowledge to our viewers like Job, Yojna, General Study, Health, English, Motivation and Others important & Creative Idea across India. All aspirants & Viewers can get all details with easily from my respective website.

Leave a Comment

error: Content is protected !!